पीएम के उपहारों की ई-नीलामी: एक करोड़ रुपये में बिका फोटो स्टैंड और चांदी का कलश - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Wednesday, September 18, 2019

पीएम के उपहारों की ई-नीलामी: एक करोड़ रुपये में बिका फोटो स्टैंड और चांदी का कलश

पीएम के उपहारों की ई-नीलामी: एक करोड़ रुपये में बिका फोटो स्टैंड और चांदी का कलश

प्रधानमंत्री को मिला चांदी का कलश और फोटो स्टैंड
प्रधानमंत्री को मिला चांदी का कलश और फोटो स्टैंड - फोटो : bharat rajneeti
केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने 15 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिले तोहफों की ई-नीलामी और प्रदर्शनी का शुभारंभ राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय (एनजीएमए) में किया। यह नीलामी तीन अक्तूबर तक चलेगी। इसी बीच ई-नीलामी प्रक्रिया में चांदी का एक कलश और मोदी की तस्वीर वाला एक फोटो स्टैंड एक करोड़ रुपये में बिका। यह जानकारी प्रधानमंत्री को प्राप्त स्मृति चिन्हों की नीलामी के लिए बनाई गई वेबसाइट ने दी है। फोटो स्टैंड पर गुजराती में एक संदेश भी लिखा है। इस फोटो स्टैंड का आधार मूल्य 500 रुपये था  और मंत्रालय के तहत एक वेबसाइट www.pmmementos.gov.in पर इसे 1,00,00,100 में बेचा गया। साइट के अनुसार ‘कलश’ का आधार मूल्य 18,000 रुपये था और यह 1,00,00,300 में बिका। इन दोनों वस्तुओं की नीलामी सोमवार को खत्म हो गई।

अन्य स्मृति चिन्ह जो उच्च कीमत पर बेचे गए उनमें अपने बछड़े को दूध पिलाती एक गाय की धातु की मूर्ति शामिल हैं। इसका आधार मूल्य 1,500 रुपये था और इसकी 51 लाख रुपये में नीलामी हुई। इस नीलामी से मिलने वाली धनराशि का इस्तेमाल नमामि गंगे परियोजना में किया जाएगा। प्रधानमंत्री ने ई-नीलामी की वेबसाइट के लिंक को टैग कर ट्वीट किया करते हुए लिखा था, 'जो भी हो रहा है, मेरा हमेशा उसमें विश्वास रहा है। मुझे पिछले कुछ महीनों में जितने उपहार और स्मृति चिह्न मिले हैं, उनकी नीलामी तीन अक्तूबर तक चलेगी।'

पीएम को मिले उपहारों में 576 शॉल, 964 अंगवस्त्र, 88 पगड़ियां और विभिन्न जैकेटें, चित्र, तलवारें आदि शामिल हैं। इससे पहले भी प्रधानमंत्री को मिले करीब 1800 उपहारों की नीलामी जनवरी में की गई थी। यह नीलामी करीब 15 दिन चली थी और करीब 4,000 लोगों ने इसमें हिस्सा लिया था।