राम माधव ने कहा- सभी कश्मीरी नहीं हैं देशद्रोही, पांच सितारा होटल में बंद हैं 200 नेता - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Saturday, October 5, 2019

राम माधव ने कहा- सभी कश्मीरी नहीं हैं देशद्रोही, पांच सितारा होटल में बंद हैं 200 नेता

राम माधव ने कहा- सभी कश्मीरी नहीं हैं देशद्रोही, पांच सितारा होटल में बंद हैं 200 नेता

राम माधव
राम माधव - फोटो : ANI
भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव ने शुक्रवार को तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में नेशनल यूनिटी कैंपेन को संबोधित करते हुए कहा कि लद्दाख और जम्मू-कश्मीर के लोग अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को निष्प्रभावी करने के फैसले से बाद से काफी खुश हैं। उन्होंने को घाटी में हालात सामान्य होने का दावा किया लेकिन यह भी कहा कि कश्मीर में अभी भी कुछ मुद्दे हैं। राम माधव ने कहा कि सभी कश्मीरी देशद्रोही नहीं हैं।  माधव ने कहा, 'हर कश्मीरी देशद्रोही नहीं है और हर कश्मीरी अलगाववादी नहीं है। वह आपके और मेरे जैसे हैं। हमने उसे (अनुच्छेद 370 को हटाना) इसलिए किया क्योंकि हम वहां विकासात्मक अधिकार, राजनीतिक अधिकार और जम्मू-कश्मीर के लोगों को गरिमापूर्ण जीवन जीने का अधिकार देना चाहते थे।' 

पांच सितारा होटल में नजरबंद हैं 200 नेता

राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि राज्य के 200 से अधिक नेताओं को नजरबंद रखा गया है। उन्होंने कहा, 'नेताओं को पांच सितारा होटलों में नजरबंद किया गया है जिसमें अच्छी सुविधाएं मौजूद हैं। यह राज्य में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए अस्थायी कदम है। 200 लोग दो महीने से जेल में हैं और पूरे राज्य में शांति व्यवस्था कायम  है।'

भारत में शामिल होने से खुश हैं जम्मू-कश्मीर के लोग

राम माधव ने कहा जम्मू-कश्मीर के लोग भारत का हिस्सा बनने से काफी खुश हैं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, 'जम्मू-कश्मीर में जम्मू काफी खुश है कि वह अब आखिरकार पूरे देश का हिस्सा बन गया है। हालांकि कश्मीर घाटी में कुछ मुद्दे हैं। इन मुद्दों का ध्यान रखा जाएगा और इनका निवारण अत्यंत संवेदनशीलता से किया जाएगा।'

दो महीने में नहीं घटी कोई घटना

राम माधव ने कहा, 'लद्दाख के लोग भी काफी खुश हैं। वे इसलिए भी खुश हैं क्योंकि काफी लंबे समय से वह इसकी मांग कर रहे थे।' उन्होंने कहा कि अनुच्छेद 370 को हटाने के फैसले को कश्मीर की जनता को समझाया जाएगा। कश्मीर में एक बड़ी संख्या में लोग इस फैसले की तारीफ कर रहे हैं। दो महीने से सुरक्षाबलों की मौजूदगी के कारण राज्य में कोई भी घटना नहीं घटी है।