Conversion case : ईडी ने खंगाला घर का कोना-कोना, परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल, बेटे को भी पूछताछ के लिए ले गई साथ - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Sunday, July 4, 2021

Conversion case : ईडी ने खंगाला घर का कोना-कोना, परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल, बेटे को भी पूछताछ के लिए ले गई साथ

उमर के करीबियों का कहना है कि शनिवार हुई कार्रवाई के बाद से उनके परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल है। करीबियों का कहना है कि ईडी के अधिकारियों ने उमर के घर को पूरी तरह अस्त-व्यस्त कर दिया। घर की एक-एक अलमारी, बैड, स्टोर समेत अन्य जगहों की गहन तलाशी ली गई।
धर्मांतरण मामले में गिरफ्तार किए गए मुख्य आरोपी मौलाना मोहम्मद उमर गौतम के घर शनिवार हुई ईडी की छापेमारी से स्थानीय लोग काफी खफा दिखे। ज्यादातर लोगों का कहना था कि मुसलमानों को बदनाम करने की नियत पूरा ड्रामा किया जा रहा है।

उमर के करीबियों का कहना है कि शनिवार हुई कार्रवाई के बाद से उनके परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल है। करीबियों का कहना है कि ईडी के अधिकारियों ने उमर के घर को पूरी तरह अस्त-व्यस्त कर दिया। घर की एक-एक अलमारी, बैड, स्टोर समेत अन्य जगहों की गहन तलाशी ली गई।

बाद में पूछताछ करने की बात कर उमर गौतम के बड़े बेटे अब्दुल्लाह उमर को अपने साथ दफ्तर ले गई। करीबियों का कहना है कि अब कहीं उनके बेटे भी को जांच एजेंसियां फंसा न दें।

छापेमारी के दौरान घर के पास मौजूर उमर के करीबी ने बताया कि मौलाना ने किसी को जबरदस्ती धर्म बदलने के लिए फोर्स नहीं किया है। धर्म बदलने वाला दूध पीता बच्चा नहीं है। जो लोग अपनी मर्जी से धर्म बदलते हैं मौलाना उमर बस उनकी मदद करते हैं।

आईडीसी भी बस उनकी मदद करती है। यदि किसी के साथ कोई जबरदस्ती की गई है तो पुलिस उसे सामने लेकर आए। उमर के एक करीबी ने तो यहां तक कहा कि यूपी में विधानसभा चुनावों की तैयारी के लिए उमर गौतम को जबरन बलि का बकरा बनाया गया है।

उनको पूरा यकीन है कि उमर बेगुनाह साबित होकर जल्द ही जेल से रिहा हो जाएंगे। स्थानीय लोगों का कहना था कि पूरा इलाका उमर के परिवार के साथ हैं। जरूरत पड़ने पर परिवार की हर संभव मदद की जाएगी।