Pradosh vrat 2021: बुध प्रदोष व्रत आज, इन व्रत नियमों के पालन करने से प्रसन्न होंगे भगवान शिव, मनोकामना पूरी होने की है मान्यता - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Wednesday, July 7, 2021

Pradosh vrat 2021: बुध प्रदोष व्रत आज, इन व्रत नियमों के पालन करने से प्रसन्न होंगे भगवान शिव, मनोकामना पूरी होने की है मान्यता

Pradosh vrat 2021: बुध प्रदोष व्रत आज, इन व्रत नियमों के पालन करने से प्रसन्न होंगे भगवान शिव, मनोकामना पूरी होने की है मान्यता

हिंदू धर्म में प्रदोष व्रत का विशेष महत्व होता है। प्रदोष व्रत हर माह की त्रयोदशी को रखा जाता है। त्रयोदशी तिथि हर महीने के शुक्ल और कृष्ण पक्ष में आती है। ऐसे में हर महीने दो प्रदोष व्रत रखे जाते हैं। पूरे साल में कुल 24 प्रदोष व्रत पड़ते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, भगवान शिव की महिमा से भक्तों की मनोकामनाएं पूरी होती हैं और कष्टों से मुक्ति मिलती है।

07 जुलाई को रखा जाएगा प्रदोष व्रत-

जुलाई में प्रदोष व्रत 07 तारीख को रखा जाएगा। इस दिन बुधवार है। बुधवार को पड़ने वाले प्रदोष व्रत को बुध प्रदोष व्रत कहा जाता है। त्रयोदशी तिथि 07 जुलाई से शुरू होकर 08 जुलाई की देर रात 03 बजकर 20 मिनट तक रहेगी।

प्रदोष व्रत नियम-

प्रदोष व्रत यूं तो निर्जला रखा जाता है इसलिए इस व्रत में फलाहार का विशेष महत्व होता है। प्रदोष व्रत को पूरे दिन रखा जाता है। सुबह नित्य कर्म के बाद स्नान करें। व्रत संकल्प लें। फिर दूध का सेवन करें और पूरे दिन उपवास धारण करें।

प्रदोष में क्या नहीं करना चाहिए-

प्रदोष काल में भगवान शिव की पूजा करने के बाद ही भोजन ग्रहण करना चाहिए। प्रदोष व्रत में अन्न, नमक, मिर्च आदि का सेवन नहीं करना चाहिए। व्रत के समय एक बार ही फलाहार ग्रहण करना चाहिए।