Rafale Deal : 'दाढ़ी में एक नहीं, कई तिनके...', फ्रांस में जांच के आदेश के बाद कांग्रेस ने पीएम को घेरा - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Sunday, July 4, 2021

Rafale Deal : 'दाढ़ी में एक नहीं, कई तिनके...', फ्रांस में जांच के आदेश के बाद कांग्रेस ने पीएम को घेरा

फ्रांस में राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार की जांच के बाद से कांग्रेस मोदी सरकार पर पहले से ज्यादा हमलावर हो गई है। कांग्रेस ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि दाढ़ी में एक नहीं, कई तिनके हैं।
राफेल डील को लेकर पहले से ही मोदी सरकार पर निशाना साधती कांग्रेस के इरादे अब और मजबूत हो गए हैं। फ्रांस में राफेल डील में कथित भ्रष्टाचार जांच को लेकर कांग्रेस फिर एक बार मोदी सरकार को घेरने लगी है। बता दें कि राफेल डील की जांच को लेकर फ्रांस में जज की भी नियुक्ति कर दी गई है।

जज की नियुक्ति के बाद से कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर हो गई है। कांग्रेस ने मोदी सरकार को घेरते हुए कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा अब सिर्फ बस एक नारा बन गया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि दाढ़ी में एक नहीं, कई तिनके हैं। बता दें कि भारतीय वायु सेना के लिए भारत सरकार ने जब से फ्रांसीसी कंपनी डसॉल्ट एविएशन से राफेल विमान खरीदे हैं, तब से कांग्रेस पार्टी मोदी सरकार की आलोचना कर रही है।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि आजादी के बाद से सभी केंद्र सरकारों ने राष्ट्रीय सुरक्षा को बड़ा मुद्दा माना है और इसका राजनीतिकरण करने से परहेज किया है। उन्होंने आगे कहा कि मोदी सरकार ने भी कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा सर्वोपरि है और उससे कोई समझौता नहीं हो सकता लेकिन जब बात उद्योगपति मित्रों की जेब भरने की आती है तो पिछले सात सालों में उनकी प्राथमिकता क्रोनी कैपिटलिज्म रही है।

पवन खेड़ा ने आगे कहा कि जब उद्योगपति मित्रों की जेब भरने की बात आती है तो, राष्ट्रीय सुरक्षा बस एक नारा बनकर रह जाती है। पवन खेड़ा ने आगे कहा कि फ्रांस में राफेल में भ्रष्टाचार, मनी लॉन्ड्रिंग और पक्षपात के संबंध में राफेल सौदे की जांच शुरु किए हुए 24 घंटे हो गए हैं।

लेकिन सबसे बड़ा सवाल अब तक केंद्र सरकार ने इस पर चुप्पी क्यों साधी हुई है। उन्होंने आगे कहा कि यही सरकार सिर्फ बात करने के लिए जानी जाती है। अब तक प्रधानमंत्री, रक्षा मंत्री और कैबिनेट के अन्य सदस्य चुप हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि इस चुप्पी की गूंज पूरे देश में सुनी जा रही है। उन्होंने आगे कहा कि ये बहुत शर्मनाक बात है कि चुनाव के अलावा यह सरकार कोई बात नहीं करती है।

उन्होंने कहा कि अगर प्रधानमंत्री मोदी में हिम्मत है तो प्रेस कॉन्फ्रेंस करें और इन सवालों का जवाब दें फिर 2024 की बात करिए। पवन खेड़ा ने कहा कि उनकी दाढ़ी में देश को रुचि नहीं है। देश को इस बात में रुचि है कि 570 करोड़ रुपये की चीज 1670 करोड़ रुपये में क्यों खरीदी गई। 126 के बदले सिर्फ 36 राफेल क्यो खरीदे गए।