Wait is over : आखिरकार दिल्ली में मानसून ने दी दस्तक, राजधानी समेत एनसीआर के इलाकों में झमाझम बारिश - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Tuesday, July 13, 2021

Wait is over : आखिरकार दिल्ली में मानसून ने दी दस्तक, राजधानी समेत एनसीआर के इलाकों में झमाझम बारिश

राजधानी दिल्ली व एनसीआर के कुछ इलाकों में सुबह से ही तेज बारिश हो रही है। वहीं, बहादुरगढ़, गुरुग्राम, फरीदाबाद, लोनी, नोएडा, गोहाना, सोनीपत, रोहतक और खेकरा में अगले दो घंटों में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।
राजधानी दिल्ली में लंबे समय से मानसून का इंतजार कर रहे लोगों की प्रतीक्षा खत्म हो गई है। मंगलवार सुबह से ही दिल्ली और गुरुग्राम समेत एनसीआर के कई इलाकों में झमाझम बारिश हो रही है। माना जा रहा है कि 11 जुलाई को दिल्ली पहुंचने वाला मानसून देरी से पहुंचा है और दिल्ली में हो रही बारिश राजधानी में इस साल के मानसून की पहली फुहार है।

पूर्वानुमान के अनुसार अगले दो घंटों में दिल्ली व आसपास के इलाकों जैसे, बहादुरगढ़, गुरुग्राम, फरीदाबाद, लोनी, नोएडा, गोहाना, सोनीपत, रोहतक और खेकरा में गरज के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। इसी के साथ 20-40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं भी चल सकती हैं।

11 जुलाई को ही आने वाला था मानसून

बता दें कि इस बार मौसम विभाग कई बार मानसून का मिजाज समझने में नाकाम रहा है। कई बार मानसून की घोषणा करने में नाकाम रहने के बाद विभाग ने घोषणा की थी कि 11 जुलाई तक दिल्ली-एनसीआर में मानसून का इंतजार खत्म हो जाएगा। इसे लेकर यलो अलर्ट जारी करते हुए विभिन्न इलाकों में हल्की बारिश की संभावना जताई गई थी।

लेकिन 11 जुलाई यानी रविवार को ठीक इसका उलटा असर दिखा। सुबह से ही सूर्यदेव ने कोप दिखाया। तीखी धूप के कारण दिनभर उमस भरी गर्मी से लोगों का बुरा हाल रहा। सुबह कुछ देर के लिए लुकाछिपी का खेला चला, लेकिन बादल बिन बरसे ही चले गए। पूर्वी दिल्ली के इलाके में कुछ मिनटों के लिए बूंदाबांदी दर्ज हुई। इस कारण उमस बढ़ने से लोगों की परेशानी और बढ़ गई।

इस तरह बदलती गईं तारीखें

मौसम विभाग ने पिछले माह संभावना जताई थी कि मानसून तय समय 27 जून से पहले ही 15 जून तक दस्तक दे देगा। 15 जून तक आते-आते मौसम विभाग ने तारीख बदलते हुए 22 जून तक पहुंचने की संभावना जताई। इस तारीख तक भी मानसून नहीं पहुंचने पर 27 जून से लेकर माह के अंत तक आने की संभावना बताई गई।

इसके बाद एक बार फिर दो जुलाई तक लोगों की आस बढ़ा दी गई। मौसमी परिस्थितियों का हवाला देते हुए विभाग ने 7 जुलाई तक आने की संभावना जताई। लगातार रूठे मानसून को देखते हुए फिर से नई तारीख 10 जुलाई बताई गई। इसके बाद 24 घंटे देरी का हवाला देते हुए 11 जुलाई की घोषणा हुई थी।