Tokyo Paralympic :- नोएडा के DM ने भारत को दिलाया सिल्वर मेडल - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

test banner

Sunday, September 5, 2021

Tokyo Paralympic :- नोएडा के DM ने भारत को दिलाया सिल्वर मेडल

सुहास भारत के पहले IAS अधिकारी बन गए हैं. जिन्होंने पैरालंपिक्स में मेडल जीतने का कारनामा किया है. सुहास गौतम बुद्ध नगर के डीएम हैं. 
टोक्यो पैरालंपिक्स में भारत को एक और मेडल मिला है. बैडमिंटन खिलाड़ी सुहास यतिराज ने सिल्वर मेडल जीता है. मेंस सिंगल्स SL4 के फाइनल मुकाबले में सुहास यतिराज को हार मिली. फ्रांस के लुकास माजुर ने सुहास को कड़े मुकाबले में 21-15, 17-21, 15-21 के अंतर से हराया. टोक्यो पैरालंपिक्स में ये भारत का 18वां मेडल है. और आखिरी दिन का पहला मेडल. सुहास भारत के पहले IAS अधिकारी बन गए हैं. जिन्होंने पैरालंपिक्स में मेडल जीतने का कारनामा किया है. सुहास गौतम बुद्ध नगर के डीएम हैं.

फाइनल मुकाबला काफी रोमांचक रहा. तीन सेटों तक मुकाबला चला. सुहास यतिराज को पहले गेम की शुरुआत में ही लुकास से जोरदार टक्कर मिली. लुकास माजुर ने जल्द ही तीन अंकों की बढ़त हासिल करते हुए स्कोर को 6-3 कर दिया. लेकिन सुहास ने इसके बाद बैक टू बैक पॉइंट्स हासिल कर स्कोर को 5-6 किया.

#Suhas के नाम रहा पहला गेम

सुहास ने अटैकिंग खेल दिखाते हुए पहले इंटरवल तक 3 अंकों की बढ़त हासिल की और स्कोर को 11-8 कर दिया. इंटरवल के बाद लुकास थोड़े ढीले दिखे. कुछ गलतियां की, जिसका सुहास ने पूरा फायदा उठाया. स्कोर अब 14-9 हो चुका था. हालांकि, नंबर एक वरीयता प्राप्त लुकास माजुर ने गेम में वापसी की कोशिश की और जल्द ही 4 अंक हासिल कर लिए. लेकिन सुहास यतिराज ने पहले गेम को 21-15 से अपने नाम कर लिया.

#दूसरे गेम में पिछड़े Suhas

दूसरे गेम में यतिराज ने 4-1 की बढ़त हासिल की. तीन अंकों से पिछड़ रहे लुकास माजुर ने बेहतरीन खेल दिखाते हुए स्कोर को बराबर कर दिया. उधर, सुहास यतिराज ने निरंतरता बरकरार रखी. और विपक्षी खिलाड़ी को गेम में वापस आने का मौका नहीं देना चाहते थे. लिहाजा, उन्होंने इंटरवल तक 11-8 की लीड ली. लगा कि सुहास दूसरा गेम भी जीतकर इतिहास रच देंगे. लेकिन लुकास माजुर हार मानने वालों में से नहीं थे. इंटरवल के बाद लुकास ने पहले स्कोर को 15-15 से बराबर किया. और बाद में लगातार पॉइंट्स हासिल कर दूसरा गेम 21-17 से अपने नाम कर लिया. यानी अब तीसरे गेम में विनर का फैसला होना था.

#रोमांचक रहा आखिरी गेम

तीसरे और आखिरी गेम में एक बार फिर भारतीय खिलाड़ी ने शुरुआत में ही 4-1 की बढ़त हासिल की. लेकिन सुहास ने गलत जजमेंट और शॉट्स की वजह से विपक्षी खिलाड़ी को वापसी का मौका दिया. एक वक्त स्कोर 9-9 से बराबर भी हो गया था. लेकिन इंटरवल तक सुहास ने 11-10 की बढ़त बना ली. अब आखिरी के कुछ मिनटों में गोल्ड का फैसला होना था. और यहीं पर सुहास दबाव में आ गए. लुकास माजुर ने 16-13 की लीड ले ली. और फिर तीसरा गेम 21-15 से अपने नाम कर लिया. टोक्यो पैरालंपिक्स में सुहास को सिल्वर से संतोष करना पड़ा.