Inflammatory speech in haridwar :- 'धर्म संसद में भड़काऊ भाषण' मामले पर बोले सिब्बल, इन 'अपराधियों' पर UAPA के तहत मामला दर्ज किया जाना चाहिए - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

अन्य विधानसभा क्षेत्र

बेहट नकुड़ सहारनपुर नगर सहारनपुर देवबंद रामपुर मनिहारन गंगोह कैराना थानाभवन शामली बुढ़ाना चरथावल पुरकाजी मुजफ्फरनगर खतौली मीरापुर नजीबाबाद नगीना बढ़ापुर धामपुर नहटौर बिजनौर चांदपुर नूरपुर कांठ ठाकुरद्वारा मुरादाबाद ग्रामीण कुंदरकी मुरादाबाद नगर बिलारी चंदौसी असमोली संभल स्वार चमरौआ बिलासपुर रामपुर मिलक धनौरा नौगावां सादात

Monday, January 3, 2022

Inflammatory speech in haridwar :- 'धर्म संसद में भड़काऊ भाषण' मामले पर बोले सिब्बल, इन 'अपराधियों' पर UAPA के तहत मामला दर्ज किया जाना चाहिए

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, "हरिद्वार में भड़काऊ भाषण (inflammatory speech in haridwar), से जुड़े मामले में आरोपियों का नाम जोड़ने का क्या मतलब है, उन्हें गिरफ्तार करें उन पर यूएपीए के तहत मुकदमा चलाएं। मोदी जी योगी जी: आप चुप क्यों हैं?"

HIGHLIGHTS
  • 17 से 20 दिसंबर तक हरिद्वार में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कही गयी थी ये बातें
  • दर्ज हो चुकी है एफआईआर
  • कालीचरण महाराज को पिछले दिनों किया गया ता गिरफ्तार
नयी दिल्ली: कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने रविवार को कहा कि गैरकानूनी गतिविधियां (illegal activities) रोकथाम अधिनियम या यूएपीए उन अपराधियों पर लगाया जाना चाहिए, जिन्होंने इसके तहत अपराध किया है और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। सिब्बल की यह टिप्पणी हरिद्वार पुलिस द्वारा भड़काऊ भाषण मामले में और आरोपियों के नाम जोड़े जाने के बाद आई है, लेकिन किसी को भी 'गिरफ्तार नहीं' किया गया है। पुलिस ने विवादास्पद धार्मिक नेता यति नरसिम्हनंद का नाम जोड़ा है, जिन्होंने कथित तौर पर एक समुदाय के खिलाफ भड़काऊ भाषण (inflammatory speech) दिया था।

उन्होंने एक ट्वीट में कहा, "हरिद्वार में भड़काऊ भाषण,(inflammatory speech in haridwar) से जुड़े मामले में आरोपियों का नाम जोड़ने का क्या मतलब है, उन्हें गिरफ्तार करें उन पर यूएपीए के तहत मुकदमा चलाएं। मोदी जी योगी जी: आप चुप क्यों हैं?" कथित तौर पर अभद्र भाषा 17 से 20 दिसंबर तक हरिद्वार में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान दी गई थी।

इस कार्यक्रम का आयोजन एक विवादास्पद धार्मिक नेता (controversial religious leader) यती नरसिम्हनंद ने किया था, जिन पर अतीत में हिंसा भड़काने का आरोप लगाया जा चुका है। हाल ही में हिंदू धर्म अपनाने वाले शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष (Former Chairman of Shia Waqf Board) जितेंद्र नारायण त्यागी के खिलाफ उत्तराखंड पुलिस ने मामले में प्राथमिकी दर्ज की है। इसी तरह की एक घटना में, छत्तीसगढ़ पुलिस ने मध्य प्रदेश के खजुराहो से महात्मा गांधी के खिलाफ कथित रूप से अपमानजनक भाषा (derogatory Language) का इस्तेमाल करने के आरोप में कालीचरण महाराज को गिरफ्तार किया था।

पुलिस ने महात्मा गांधी पर कथित रूप से अपमानजनक टिप्पणी (derogatory remarks) करने और नाथूराम गोडसे की प्रशंसा करने के आरोप में धर्मगुरु और अन्य के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। कांग्रेस हरिद्वार में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई में देरी की आलोचना कर रही है।

Loan calculator for Instant Online Loan, Home Loan, Personal Loan, Credit Card Loan, Education loan

Loan Calculator

Amount
Interest Rate
Tenure (in months)

Loan EMI

123

Total Interest Payable

1234

Total Amount

12345
close