जांच करने पहुंचे दरोगा ने पूर्व मकान मालिक को जड़ा थप्पड़, थाने पहुंचकर भाजपाइयों का हंगामा - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Monday, October 14, 2019

जांच करने पहुंचे दरोगा ने पूर्व मकान मालिक को जड़ा थप्पड़, थाने पहुंचकर भाजपाइयों का हंगामा

जांच करने पहुंचे दरोगा ने पूर्व मकान मालिक को जड़ा थप्पड़, थाने पहुंचकर भाजपाइयों का हंगामा

थाने पहुंचे भाजपाई
थाने पहुंचे भाजपाई - फोटो : bharat rajneeti
बरनाहल के दलेल नगर में मकान पर कब्जे की सूचना पर दरोगा जांच करने पहुंचा था। आरोप है कि पूछताछ के दौरान उसने मकान के पूर्व मालिक को थप्पड़ लगा दिया। जानकारी मिलने के बाद भाजपा के स्थानीय नेता थाने पहुंच गए और दरोगा से मामले में जानकारी लेने लगे। 
इस दौरान दरोगा से उनकी काफी नोकझोंक हुई। इस दौरान वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने किसी तरह मामले को शांत कराया। बाद में थानाध्यक्ष ने दोनों पक्ष के लोगों को कागजात के साथ बुलाया। निर्माण कार्य को पुलिस ने रुकवा दिया है।

थाना क्षेत्र गांव के दलेलनगर निवासी झब्बूलाल के मकान में करीब 10 वर्ष से बिप्ती सिंह किराए पर रह रहे थे। वर्ष 2013 में झब्बू लाल ने किराएदार की पत्नी किताबश्री के नाम आधे मकान का बैनामा कर दिया था। 

तीन अक्तूबर 2019 को आधे बचे मकान का बैनामा झब्बूलाल ने गांव के ही शिवकुमार को कर दिया। आरोप है कि बिप्ती सिंह रविवार को शिवकुमार के हिस्से में शौचालय का निर्माण करने लगे। इसको लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद होने लगा। सूचना पर पहुंचे एसआई ने मामले की जानकारी ली।

आरोप है कि इस पूछताछ के दौरान झब्बू लाल को एसआई ने थप्पड़ मार दिया। पुलिस के जाने के बाद जब यह बात भाजपा के स्थानीय नेताओं को लगी तो वह झब्बू लाल व अन्य ग्रामीणों के साथ थाने पहुंच गए। इसके बाद नेताओं और दरोगा के बीच काफी देर तक नोकझोंक हुई।

वहां मौजूद अन्य पुलिसकर्मियों ने किसी तरह से स्थिति को संभाला। दोनों पक्ष के लोगों को कागजात लेकर थाने बुलाया गया। निर्णय न होने तक के लिए फिलहाल निर्माण कार्य भी रुकवा दिया गया। 

थानाध्यक्ष अशोक कुमार का कहना है कि मकान में निर्माण को लेकर दोनों पक्ष के लोग आए थे। उन्होंने अपनी-अपनी तहरीर दे दी है। जांच करके कार्रवाई की जाएगी। दरोगा से किसी तरह की कोई नोकझोंक नहीं हुई है।