महाराष्ट्र: गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ, शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Friday, November 15, 2019

महाराष्ट्र: गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ, शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री

गठबंधन सरकार बनने का रास्ता साफ, शिवसेना का ही होगा मुख्यमंत्री
महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) और कांग्रेस के बीच गठबंधन होने की संभावना है। गुरुवार को तीनों दलों ने कहा कि न्यूनतम साझा कार्यक्रम (सीएमपी) को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसी बीच एनसीपी का कहना है कि राज्य में अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा।

अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा: एनसीपी

एनसीपी के मुंबई अध्यक्ष नवाब मलिक ने कहा, 'अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा। यह हमारी जिम्मेदारी है कि हम उसके आत्मसम्मान को बनाए रखे क्योंकि उसने अपने पुराने गठबंधन को छोड़ा है। कांग्रेस सरकार का हिस्सा होगी या वह बाहर से हमारा समर्थन करेगी इसका जल्द फैसला होगा।'

देश की आजादी में कांग्रेस का योगदान: राउत

वहीं शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार पर पार्टी प्रवक्ता संजय राउत ने कहा कि सीएम शिवसेना का ही होगा। महाराष्ट्र बनाने में सभी का योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि कॉमन मिनिमम प्रोग्राम राज्य के हित के लिए बना है। अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार भी इसी पर आधारित थी। कांग्रेस के साथ गठबंधन के सवाल पर राउत ने कहा कि देश की आजादी में कांग्रेस का योगदान रहा है। हम सभी को साथ लेकर चलेंगे। राउत ने ट्वीट कर कहा, 'बंदे हैं हम उसके हमपर किसका जोर, उम्मीदों के सूरज निकले चारों ओर।'

17 नवंबर को गठबंधन सरकार पर एलान संभव

सूत्रों के अनुसार 17 नवंबर को महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस एलान कर सकती है। इसी दिन बाल ठाकरे की पुण्यतिथि है। खबर है कि 19 नवंबर को शरद पवार और सोनिया गंधी के बीच मुलाकात होगी। जिसमें गठबंधन के ड्राफ्ट पर अंतिम मुहर लगेगी।

सोनिया गांधी देंगी अंतिम रूप

सरकार बनाने की गतिविधियों ने रविवार से गति पकड़नी तब शुरू की जब शरद पवार ने दिल्ली में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने की उम्मीद जताई। एनसीपी नेताओं के अनुसार पहले गांधी और पवार बैठक करेंगे और उसके बाद शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे से मिलेंगे। इस बैठक को काफी अहम माना जा रहा है कि क्योंकि यह सरकार गठन पर आखिरी मुहर लगाने का काम करेगी।

भाजपा के बिना सरकार असंभव: फडणवीस

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने भाजपा के नवनिर्वाचित विधायकों से कहा है कि है कि कोई भी पार्टी भाजपा के बिना राज्य में सरकार नहीं बना सकती है। महाराष्ट्र में मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लगाया गया।

क्रिकेट और राजनीति में कभी भी कुछ भी संभव: गडकरी

महाराष्ट्र की राजनीति में फंसे पेंच पर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने टिप्पणी की है। मुंबई में एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, 'क्रिकेट और राजनीति में कुछ भी हो सकता है। कभी-कभी आपको लगता है कि आप मैच हारने वाले हैं, लेकिन परिणाम उसका उलट ही आता है।'

शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस के गठबंधन के खिलाफ याचिका

शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन को फर्जी घोषित कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई है। याचिका को अगले कुछ दिन में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जा सकता है। इसमें आरोप लगाया गया है कि विधानसभा चुनाव भाजपा के साथ लड़ने वाली शिवसेना के रुख में आया बदलाव कुछ नहीं बल्कि एनडीए के प्रति लोगों के विश्वास से धोखा है। यह याचिका प्रमोद पंडित जोशी ने दाखिल की है।