एक दिसंबर से देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर फास्टैग सुविधा - Politics news of India | Current politics news | Politics news from India | Trending politics news,India News (भारत समाचार): India News,world news, India Latest And Breaking News, United states of amerika, united kingdom

.

Tuesday, October 15, 2019

एक दिसंबर से देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर फास्टैग सुविधा

एक दिसंबर से देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों पर फास्टैग सुविधा

नितिन गडकरी (फाइल फोटो)
नितिन गडकरी (फाइल फोटो) : bharat rajneeti

खास बातें

  • 'एक देश एक फास्टैग' विषय पर आयोजित एक कार्यक्रम में बोले केंद्रीय मंत्री गडकरी
  • देश में राष्ट्रीय राजमार्गों पर कुल 527 टोल प्लाजा, 380 के सभी लेन फास्टैग से लैस
  • फास्टैग एक पारदर्शी व्यवस्था, जिससे टोल प्लाजा पर जाम नहीं बनेंगे जाम के हालात 
  • सब लेन फास्टैग वाले हो जाएंगे तो सिर्फ एक ही लेन पर नकदी स्वीकार की जाएगी
अगले कुछ महीनों में राष्ट्रीय राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा पर आपको टोल चुकाने के लिए रुकना नहीं होगा। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) आगामी एक दिसंबर से सभी राजमार्गों पर स्थित टोल प्लाजा के सभी लेन को फास्टैग से लैस कर रहा है। यह जानकारी केंद्रीय परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने सोमवार को दी। 'एक देश एक फास्टैग' विषय पर यहां आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गडकरी ने बताया कि अभी देश में राष्ट्रीय राजमार्गों पर कुल 527 टोल प्लाजा हैं, जिनमें से 380 टोल प्जाला के सभी लेन फास्टैग से लैस हो गए हैं। बाकी लेनों को भी फास्टैग से लैस कर रहे हैं। एक दिसंबर से देश के सभी टोल प्लाजा पर ऐसी व्यवस्था हो जाएगी। 

उन्होंने बताया कि फास्टैग एक पारदर्शी व्यवस्था है जिससे टोल प्लाजा पर जाम नहीं लगेगा और यह भी पता चल जाएगा कि किस वाहन में कौन बैठा है। इससे गृह मंत्रालय को भी अपराध नियंत्रण करने में मदद मिलेगी और पुलिस आसानी से अराजक तत्वों तक पहुंच सकेगी। यही नहीं, अब तो फास्टैग को जीएसटी नेटवर्क से भी जोड़ दिया गया है।

उनका कहना है टोल प्लाजा पर नकदी में टोल टैक्स चुकाने के लिए मोटर वाहनों को रुकना पडता है जिससे वाहन समय पर गंतव्य पर पहुंच नहीं पाते हैं। इसके अलावा टोल प्लाजा पर वाहनों से धुआं निकलता रहता है जो प्रदूषण फैलाता है। साथ ही हर रोज करोड़ों रुपये का डीजल यूं ही जल जाता है जो कि अर्थव्यवस्था के लिए नुकसानदेह है। 

उल्लेखनीय है कि फास्टैग के लिए जब अधिसूचना जारी की गई थी तब टोल प्लाजा पर कम से कम एक लेन पर कैशलेस टोल स्वीकारने की व्यवस्था को अनिवार्य किया गया था। जब सब लेन फास्टैग वाले हो जाएंगे तो सिर्फ एक ही लेन पर नकदी स्वीकार की जाएगी।